दुखद: गंगोत्री विधायक गोपाल रावत की निधन से प्रदेश भाजपा में शोक की लहर

चित्र - प्रतीकात्मक 
दुखद: गंगोत्री विधायक गोपाल रावत की निधन से प्रदेश भाजपा में शोक की लहर: इस वक्त उत्तराखंड से एक दुखद खबर आ रही है। गंगोत्री विधायक गोपाल सिंह रावत का लंबी बीमारी के बाद देहरादून के गोविंद अस्पताल में निधन हो गया है। गोपाल रावत की निधन से प्रदेश भाजपा में शोक की लहर छा गई है।

विधायक गोपाल रावत पिछले लंबे समय से ब्लड कैंसर की बीमारी से जूझ रहे थे। अपना इलाज के लिए मुंबई भी गए थे। वो बीते दिसम्बर महीने से कैंसर से जूझ रहे थे। उन्होंने गोविन्द अस्पताल में आखिरी सांस ली। उनके आकस्मिक निधन पर मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने गहरा शोक जताया है।

यह भी पढ़े : बागेश्वर जिले में 52 कोरोना संक्रमित हुए लापता, स्वास्थ्य विभाग खोजबीन में जुटा

उत्तराखंड विधानसभा अध्यक्ष ने गंगोत्री विधायक के निधन को उत्तराखंड के लिए अपूरणीय क्षति बताया है। विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि आज हमने राजनीति एवं समाज की सेवा में अग्रणी रहने वाले एक धरोहर को खो दिया है। आपको बता दें कि गोपाल सिंह रावत गंगोत्री विधानसभा सीट से दो बार के विधायक रह चुके हैं। प्रदेश के बड़े नेताओं ने दिवंगत आत्मा की शांति के लिए ईश्वर से प्रार्थना की है तथा शोक संतप्त परिवारजनों को इस दु:ख की इस घड़ी में धैर्य प्रदान करने की कामना की है।

आगे पढ़े : उत्तराखंड सरकार ने लिया बड़ा फैसला..कल से सभी सरकारी ऑफिस 3 दिन के लिए बन्द

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां