पहाड़ में टैक्सी संचालकों पर लॉकडाउन की गहरी मार, मुसीबतें बढ़ी


बागेश्वर न्यूज़ : कोरोना संक्रमण के चलते हुए लॉकडाउन के कारण करीब डेढ़ महीने तक टैक्सियों के पहिए जाम रहे। टैक्सी चालकों के सामने कई तरह की समस्या कड़ी हो गई है। टैक्सियों का संचालन न होने से टैक्सी स्वामी बैंक की किस्त भी नहीं दे पा रहे हैं। बीते चार मई से टैक्सियों का संचालन हो रहा है लेकिन टैक्सी में दो ही सवारी ले जाने की अनुमति होने से टैक्सी संचालकों का मुनाफा कम हो गया है। टैक्सी संचालक सरकार से टैक्स में राहत देने की मांग कर रहे हैं।

यह भी पढ़िये : Corona Lockdown में यह 5 आवश्यक चीजें बना रही आपकी जिन्दगी आसान

टैक्सी व्ययसाय से जुड़े कुछ लोगो का कहना है कि:

टैक्सी में दो सवारी ले जाने की अनुमति मिली है। इससे तेल का खर्चा भी नहीं निकल पा रहा है। सवारी बढ़ाने की अनुमति मिलनी चाहिए।
- सुंदर सिंह टैक्सी संचालक बिलखेत

करीब डेढ़ महीने के बाद टैक्सी चल रही है। बैंक की किस्त चुकाना मुश्किल हो रहा है। सरकार को जून तक किस्त में राहत देने के साथ ही टैक्स में भी राहत देनी चाहिए।
- भुवन चंद्र टैक्सी संचालक मोहननगर

यह भी पढ़िये : गरुड़ / बागेश्वर में खुले सभी सरकारी कार्यालय, नहीं पहुंचे फरियादी

गाड़ी बागेश्वर लाने के बाद न तो भोजन मिल पा रहा है और न ही चाय पानी मिल पा रहा है। पूरा दिन रुकने के बाद भी सवारी नहीं मिल पा रही है।
- नरेंद्र सिंह टैक्सी संचालक फल्यांटी

लॉकडाउन की वजह से काफी समय बाद वाहन चल रहा है। टैक्स भरना पड़ रहा है। सरकार को टैक्स में राहत देनी चाहिए। फिटनेस और बीमा में भी राहत देनी चाहिए।
- रंजीत सिंह टैक्सी संचालक कलना
source: amar ujala