मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना प्रवासियों के लिए सुनहरा अवसर : डीएम बागेश्वर

बागेश्वर न्यूज़: उत्तराखंड के बागेश्वर जिले की डीएम रंजना राजगुरु ने कहा कि बाहरी प्रदेशों से लौटे प्रवासियों, बेरोजगार युवाओं के लिए मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना महत्वाकांक्षी सिद्ध हो सकती है । हाल ही में देश के अन्य राज्यों से बड़ी मात्रा में जिले में प्रवासी लौटे है। डीएम ने जिला स्वरोजगार प्रोत्साहन एवं अनुश्रवण समिति की बैठक में संचालित योजनाओं की जानकारी ली है।

यह भी पढ़िये : अब राशन कार्ड बनेंगे ऑनलाइन, नहीं लगाने पड़ेंगे दफ्तरों के चक्कर | जाने कैसे . . .

जीएम डीआईसी विमल चौधरी ने बताया कि उद्यमशील युवा, प्रवासियों को स्वयं के व्यवसाय के लिए बैंकों के माध्यम से सुविधा दिलाने के लिए मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना संचालित की जा रही है। डीएम ने सूक्ष्म लघु, मध्यम उद्योगों के माध्यम से विकास की कार्ययोजना बनाने, जिला स्तर पर विभिन्न विभागों के स्वरोजगार कार्यक्रमों की मैपिंग, वार्षिक लक्ष्य निर्धारण करने के निर्देश दिए।

यह भी पढ़िए : बागेश्वर में पहली बार चली मोबाइल एटीएम वैन: ट्रायल के बाद लिया गया निर्णय

जिले में खेती का हमेशा ही अच्छा स्कोप रहा है, इसी बात को मद्देनजर रखते हुवे उन्होंने अत्यधिक पैदावार वाली फसल, पशुपालन, बागवानी, सब्जी उत्पादन, होटल व्यवसाय के लिए बेहतर कार्ययोजना तैयार करते के निर्देश दिए। महिलाओं की भागीदारी बढ़ाने के लिए सभी स्वरोजगार योजनाओं में महिलाओं के लिए निर्धारित लक्ष्य पूरा करने के निर्देश दिए। बैठक में सीडीओ डीडी पंत, सीवीओ डॉ. उदय शंकर, सीएओ वीपी मौर्य, डीएचओ आरके सिंह, समाज कल्याण अधिकारी एनएस गस्याल आदि थे।

यह भी पढ़िये : उडलगांव (बागेश्वर) में गांव वालो ने होम क्वारंटीन का किया बिरोध, जिला मुख्यालय में क्वारंटीन की मांग