गरुड़ / बागेश्वर में खुले सभी सरकारी कार्यालय, नहीं पहुंचे फरियादी


गरुड़ / बागेश्वर: जैसा कि हम सभी जानते है कि कोरोना महामारी को लेकर चल रहे लॉकडाउन में ग्रीन जोन में शामिल बागेश्ववर में कार्मिकों की 50 प्रतिशत उपस्थिति के साथ सरकारी कार्यालय खुलने लगे हैं। सोमवार को कर्मचारियों ने कामकाज निपटाया लेकिन फरियादियों की संख्या नगण्य रही।

केंद्रीय गृह मंत्रालय की गाइडलाइन के अनुसार, सरकारी कार्यालयों को पचास फीसदी कर्मचारियों की उपस्थिति के साथ सुबह 10 बजे से शाम चार बजे तक कार्यालय खोलने के निर्देश मिले हैं। सोमवार को कृषि विभाग, उद्यान विभाग, बिजली निगम, जल संस्थान, जल निगम, सहकारिता विभाग, समाज कल्याण विभाग, खाद्य एवं पूर्ति विभाग आदि कार्यालयों में पचास फीसदी कर्मचारी पहुंचे और लंबित कार्य को पूरा करने में जुट गए।

यह भी पढिये : गरुड़ - बागेश्वर में वाइन शॉप पर लगी लम्बी लाइनें, नियमो की उड़ाई धज्जिया

कृषि विभाग में पांच किसान दूरस्थ क्षेत्र से भी किसान सम्मान निधि के कार्य के लिए पहुंचे। डेढ़ महीने बाद युवा कल्याण विभाग, बाल विकास विभाग और अन्य गैर आवश्यकीय विभागों के कार्यालय भी खुले। इन कार्यालयों में पचास फीसदी कर्मचारी पहुंचे, जबकि कई कर्मचारी लॉकडाउन के चलते बाहर भी फंसे हुए हैं। रजिस्ट्रार कार्यालय में भी लोग पंजीकरण के लिए नहीं पहुंचे। जिले में इ-डिस्ट्रक्ट केंद्र खुलने  से आय, जाति, स्थाई, चरित्र, पर्वतीय और अन्य प्रमाण पत्र  के लिए आवेदन होने भी शुरू हो गए है।

यह भी पढ़े : कपकोट बालिका इंटर कॉलेज में चोरी, पुलिस को दी चोरी की सूचना