विदेशी नागरिकों ने किया लॉकडाउन का उल्लंघन , 500 बार लिखनी पड़ी ये बात

ऋषिकेश: विदेशी नागरिकों ने किया  लॉकडाउन का उल्लंघन , 500 बार लिखनी पड़ी ये बात. ऋषिकेश में पुलिस ने लॉकडाउन का उल्लंघन करने वाले विदेशी नागरिकों को एक  अनोखी सजा दी है। तपोवन के चौकी प्रभारी उप निरीक्षक विनोद कुमार ने बताया कि अक्सर देखा गया है कि तपोवन क्षेत्र में रहने वाले स्थानीय जनता तो लॉकडाउन के नियमों का पालन कर रही हैं।
वही कही एसे विदेशी नागरिक है जो बिना वजह रोड़ पर चहलकदमी करते हुए नजर आते रहते हैं। जब उनसे पूछा जाता है कि वह लॉकडाउन के दौरान घूम क्यों रहे हैं, तो वह कहते हैं कि सात से एक बजे तक रिलेक्सेशन पीरियड है और हम शॉपिंग करने के लिए आए हैं। इसी को देखते हुए चौकी प्रभारी विनोद कुमार ने कर्मचारियों को साथ लेकर आज सुबह नीम बीच से लेकर साईं घाट तक गश्त लगाई, तो गंगा किनारे 10 विदेशी नागरिक चहलकदमी करते हुए नजर आये। इन विदेशी नागरिक को लॉकडाउन के नियमों का हवाला दिया गया और बताया गया कि रिलेक्सेशन पीरियड मै केवल जरुरी कार्य पडने पर ही आप घर से बाहर आ सकते है। गंगा किनारे स्नान करने, ध्यान करने या चहलकदमी करने के लिए नहीं।
वही इन विदेशी नागरिकों ने कहा कि उन्हें इस बात का पता नहीं था। इस पर तपोवन चौकी प्रभारी विनोद कुमार ने सभी विदेशी नागरिकों को 500 बार यह लिखने की सजा दी कि “मैंने लॉकडाउन के नियमों का उल्लंघन किया है, मुझे माफ कर दो” (I did not follow the lockdown. I am so sorry). इस दौरान गश्त पर चौकी प्रभारी के साथ कॉन्स्टेबल पुष्पेंद्र कुमार, कॉन्स्टेबल विकास राय, कॉन्स्टेबल अजय कुमार भी शामिल थे।