उत्तराखंड: लंबे लॉकडाउन के बाद खुलने लगी किताबों की दुकानों, छात्रों को बड़ी राहत


Bageshwar News: उत्तराखंड के छात्रों के लिए राहत की खबर है...अब राज्य में जरूरी वस्तुओं की दुकानों के साथ साथ किताबों की दुकानें भी खुलने लगी हैं।

शिक्षा कभी भी नहीं रुकनी चाहिए..ये एक सतत क्रम है, जो कि लगातार चलना चाहिए। उत्तराखंड में जैसे जैसे कोरोना के मामले कम हो रहे हैं, वैसे वैसे थोड़ी थोड़ी राहत देने का काम शुरू हो रहा है।

यह भी पढ़िये : सितारगंज: लॉकडाउन में काम न मिलने के कारण उत्तराखंड में युवक ने जहर खाकर दे दी जान

अब उत्तराखंड में जरूरी वस्तुओं के साथ ही किताबों की दुकानें भी खुल रही हैं। आज से राज्य में किताबों की दुकानें खुलनी शुरू हो गई हैं लेकिन कुछ शर्तों के साथ। इसके लिए बुधवार को ही शिक्षा सचिव आर मीनाक्षी सुंदरम की तरफ से आदेश जारी किया गया था।

अभिभावकों को निर्देश दिए गए हैं कि पुस्तक विक्रेताओं के नाम, टेलीफाने नंबर और पता जरूर दें। इसके अलावा देहरादून और डोईवाला में किताबों की होम डिलीवरी की व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए कहा गया है। शिक्षा सचिव ने सभी जिलों के जिला अधिकारियों को इस बाबत आदेश जारी किए हैं।

यह भी पढ़िये : उत्तराखंड: दहेज हत्या के आरोप में पांच पर केस दर्ज, संदिग्ध हालत विवाहिता की मौत

पुस्तक विक्रेताओं की दुकान खोले जाने को लेकर आदेेेश दिए गए हैं। लॉकडाउन के तहत 1 बजे तक किताबों की दुकानें खुल सकेंगी। किताबों की होम डिलीवरी करने के भी निर्देश दिए हैं। खास तौर पर अभिभावकों की सहूलियत को देखते हुए पुस्तक विक्रेताओं के नाम पता और फोन नम्बर जारी करने को भी कहा है। पुस्तक विक्रेताओं की दुकान पर हर हाल में सोशल डिस्टेसिंग बनाने के भी निर्देश दिए हैैं।

यह भी पढ़िये : विदेशी नागरिकों ने किया लॉकडाउन का उल्लंघन , 500 बार लिखनी पड़ी ये बात