सरपंचों से बोले पीएम मोदी- कोरोना ने हम सभी के काम करने के तरीके को बदला


कोरोना वायरस संकट के बीच आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सभी ग्राम पंचायतों के प्रमुखों को संबोधित किया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि अपने संबोधन में कहा कि कोरोना वायरस ने हमें जो सबसे बड़ा संदेश दिया है। वह यह है कि हमें आत्मनिर्भर बनना होगा।

प्रधानमंत्री ने कहा ने कोरोना ने हमें जीवन में बहुत बड़ी सीख दे दी है और अब लोगों को इस सीख के मुताबिक नई शुरूआत करनी पड़ेगी। पंचायती राज दिवस के मौके पर प्रधानमंत्री ने नए ई-ग्राम स्वराज पोर्टल और ऐप की शुरुआत की। इस पोर्टल के जरिए ग्राम पंचायतों की समस्या, उनसे जुड़ी जानकारी एक जगह पर मौजूद रहेगी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि यह एप ग्राम पंचायतों के सभी कार्यों की जानकारी को उपलब्ध कराने में मददगार बनेगा।

यह भी पढ़िये : पहाड़ की महिलाओं के साहस को सलाम, ऐसे बचायी गुलदार के हमले से सहेली की जान

इस एप से सभी नागरिक अपनी ग्रामसभा में क्या काम चल रहा है यह अपने मोबाइल पर जान सकेगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि ई पोर्टल के जरिए आम ग्रामवासी को बहुत बड़ी ताकत दी गई है। ग्राम पंचायतों को स्वामित्व योजना से जोड़ा गया है, इससे ग्रामवासियों को अनेक लाभ होगा. गांव की सभी संपत्ति की ड्रोन से मैपिंग होगी।

यह भी पढिये : वाह SDM साहब! लॉकडाउन में सरकारी गाड़ी से ड्राइविंग सीख रहीं SDM की पत्नी!

इससे गांवों में स्वामित्व को लेकर झगड़े खत्म होंगे और इस संपत्ति से गांव के मकानों पर लोन भी ले सकेंगे। इस योजना की शुरूआत में उत्तराखंड सहित 6 राज्य जुड़ गए हैं। इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि कोरोना महामारी ने सभी के काम करने के तरीके को बदल दिया है, अब हम आमने-सामने होकर बातें नहीं कर पा रहे हैं. पंचायती राज दिवस गांव तक स्वराज पहुंचाने का अवसर होता है, कोरोना संकट के बीच इसकी जरूरत बढ़ गई है।

यह भी पढिये : उत्तराखंड में काफी समय से ड्यूटी से गायब डॉक्टरों को नोटिस, जवाब न देने पर सेवाएं होंगी समाप्त