बागेश्वर में 36 हजार जनधन खातों में पड़ी रकम

Bageshwar News: केंद्र सरकार की घोषणा के अनुसार जिले के सभी 36 हजार जनधन खातों में रकम आ गई है। महिलाओं के खाते में 500 रुपये तो बुजुर्ग और विधवाओं के खाते में एक हजार रुपये की रकम आई है। शुक्रवार को बैंकों में काफी कम भीड़ रही। सोशल डिस्टेंसिंग का भी पालन किया गया। लीड बैंक से मिली जानकारी के अनुसार जिले में 36 हजार जनधन खाते हैं।

यहाँ आपको बताना चाहेंगे कि जिले में 57 राष्ट्रीयकृत और निजी बैंकों की शाखाएं हैं। बताया गया है कि महिलाओं के जनधन खाते में 500 रुपये, बुजुर्ग और विधवाओं के खाते में 1000 रुपये की राशि सरकार की ओर से डाली गई है। किसान सम्मान निधि में पंजीकरण कराने वाले खाताधारकों के खाते में 2000 रुपये की रकम डाली गई है। लीड बैंक अधिकारी मनोहर सिंह पांगती ने बताया कि सभी खातों में रकम आ गई है। खाताधारक कभी भी रकम निकाल सकते हैं। इसे तत्काल निकालने की बाध्यता नहीं है। उन्होंने लोगों से अपील की है कि सभी खाताधारक लॉकडाउन के नियमों का पालन करें। दोपहर एक बजे से तीन बजे का समय बैंकों के लिए निजी कामकाज के लिए दिया गया था लेकिन जिला मुख्यालय में लगभग सभी बैंक दोपहर एक बजे ही बंद हो गए थे।

यह पढ़े : उत्तराखंड के इस गांव में मिले 98 जमाती, पुलिस ने पूरे गाँव को ही कर दिया सील

किसान सम्मान, जन धन खातों से कैश निकालने बैंकों में रही भीड़
गरुड़ (बागेश्वर)। किसान, वृद्धा, विधवा सामाजिक पेंशन और जन धन योजना का धन खातों से रकम निकालने के लिए बैंकों में सुबह के सात बजे से लंबी कतारें लग गईं। उत्तराखंड ग्रामीण बैंक, एसबीआई, पीएनबी, बैंक ऑफ बड़ौदा, अरबन बैंक, यूनियन बैंक में भीड़ के मद्देनजर थानाध्यक्ष बैजनाथ कैलाश बिष्ट ने सुबह सात बजे से पुलिस बल तैनात करना पड़ा।